period pain relief tips in hindi मासिक धर्म में दर्द का इलाज

period pain relief tips in hindi में हम बताएंगे कि महिलाओं को मासिक धर्म के समय किन बुरी परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। जिस प्रकार आपको जानकारी है कि मासिक धर्म महिलाओं और लड़कियों के जीवन की एक कड़ी है । जो कि प्रत्येक महिलाओं में स्वाभाविक रूप से पाया जाता है । मासिक धर्म के समय महिलाओं और लड़कियों के कमर के निचले हिस्से और पेट में असहनीय दर्द होता है जिसे महिलायें बहुत ही सहन करती है । हर महीने इस इस दर्द से महिलाओ का सामान्य जीवन भी प्रभावित होता है वैसे पीरियड्स के समय होने वाले दर्द को रोकने के बहुत सारे उपाय उपलब्ध है।जिनमे से हम कुछ स्पेशल उपाय लेकर आए है जिनकी सहायता से आप पीरियड्स के दर्द में तुरंत राहत पा सकते है।
(और पढ़ें treat for hair loss in hindi )

period pain relief पीरियड के दर्द से राहत

पीरियड्स यानी कि मासिक धर्म महिलाओं के शरीर के वह स्थिति है जिसके दौरान उनके शरीर में अनेक तरह के बदलाव आते हैं । मेनस्ट्रोसाईकल और महिला के जिंदगी का एक हिस्सा होता है लेकिन कई बार इस के दौरान होने वाले दर्द एक बहुत ही परेशानी वाला समस्या बन जाती है। वैसे तो पीरियड के दौरान दर्द होना स्वाभाविक होता है।

लेकिन अगर यह दर्द ज्यादा बढ़ जाए तो यह रोजाना जिंदगी में बहुत दखल पैदा करता है।और इस दर्द के साथ कुछ भी काम करने में बहुत ज्यादा प्रॉब्लम होती है।अक्सर दर्द से छुटकारा पाने के लिए कई लोग दवाइयों का भी इस्तेमाल करते हैं जोकि उस समय पर दर्द को ठीक कर देता है लेकिन शरीर के यह बहुत हानिकारक होता है इस बात को लेकर महिलायें बहुत परेशान रहती है कि period pain relief tips in hindi

इसलिए आज हम यह बताएंगे कुछ बहुत ही असरदार और कामयाब घरेलू उपाय जो कि मासिक धर्म में होने वाले दर्द में एक नेचुरल पेन किलर की तरह काम करते हैं । और अगर इन्हें उस समय तक नियमित रूप से फॉलो किया जाए तो पीरियड में होने वाले दर्द को हमेशा के लिए खत्म किया जा सकता है इसके लिए जो पहला नुस्खा है।

how to period pain relief पीरियड के दर्द से कैसे राहत पाएं

period me dard ki medicine के तौर पे इस मिश्रण को बनाने के लिए हमें जरूरत होगी पुदीना सौंफ और तुलसी के पत्तों की तुलसी के पत्तों मेनस्ट्रोसाईकल के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। इसके अंदर कैफ़िक एसिड पाया जाता है जो कि शरीर में दर्द निवारक का काम करता है।इसे बनाने के लिए एक ग्लास पानी ने 7 से 8 तुलसी के पत्तों को डाल कर दो पुदीने के पत्ते और एक चम्मच सौंफ मिलाएं।

इसमें तुलसी के पत्तो को डालते समय ध्यान रहे कि तुलसी के पत्ते हमें बड़े वाले ही लेना हैं।क्योंकि दर्द को दूर करने के लिए बड़े वाले पत्ते ही ज्यादा असरदार होते हैं और छोटे वाले तुलसी के पत्ते ज्यादा गर्म होते हैं जिनसे पेट में गर्मी पैदा हो सकती है।

इसके बाद इन सारी चीजों को पांच से छः मिनट तक अच्छी तरह ब्वॉयल कर ले उसके बाद छानकर इस ड्रिंक का सेवन करें इसमें मौजूद सौंफ महिलाओं के शरीर के लिए एक वरदान की तरह है। इसके अंदर एन्टीस्पैस्मोडिक और एन्टिइंस्लामेट्री प्रॉपर्टीस पायी जाती है।

जो कि गर्भाशय और उससे जुड़े सारे अंगों की मांसपेशियों को आराम पहुंचाती है।इस वजह से इसका उपयोग करने से पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में भी बहुत ज्यादा फायदा मिलता है इसलिए जिन लोगों को हर बार मासिक धर्म के दौरान दर्द रहता है उन्हें रोजाना सौंफ का सेवन जरूर करना चाहिए ।

इस ड्रिंक को मेनस्ट्रोसाईकल के दौरान दिन में एक से दो बार पीने से शरीर में होने वाले दर्द में तुरंत राहत मिलती है इसके अलावा एक और नुस्खा है इसे बनाने के लिए हमें जरूरत होगी।

period pain relief tips in hindi  मासिक धर्म में दर्द का इलाज
period pain relief tips in hindi मासिक धर्म में दर्द का इलाज

tips for period pain relief पीरियड के दर्द से राहत के लिए टिप्स

यह जानकर हमें आश्चर्य होगा कि मासिक धर्म के दौरान रक्त बहने पर शरीर में प्रोस्टाग्लैंडिस की मात्रा बढ़ जाती है जिस वजह से पेट कमर और पीठ में दर्द होने लगता है।ऐसी स्थिति में अदरक का सेवन सेवन करने से इस दर्द में तेजी से सुधार आता है।

इस नुस्खे को बनाने के लिए एक गिलास पानी में एक टेबल स्पून कद्दूकस किए हुए अदरक को डालकर इसमें आधा टीस्पून दालचीनी मिलाएं इसके बाद इसमें 5-6 मिनट अच्छी तरह ब्वॉइल करें।और फिर इसे छान लें इसके बाद फिर जब यह थोड़ा ठंडा हो जाए तब इसमें एक चम्मच शहद मिलाकर इसका सेवन करें।

इसमें मौजूद दालचीनी में कैलशियम मैग्निशियम और आयरन पाया जाता है साथ ही इसकी एंटी क्लियरट्रीप प्रॉपर्टी दर्द को जल्दी ठीक करने में बहुत फायदेमंद होता है। इस ड्रिंक को पीरियड्स के दौरान एक से दो बार जरूर पीना चाहिए।

साथ ही अगर आप इस ड्रिंक को और अधिक भी असरदार बनाना चाहते हैं तो इसके अंदर तुलसी सौंफऔर अजवाइन को भी मिलाया जा सकता है। इस तरह से यह दोनो ड्रिंक के कंबीनेशन से जो नए ड्रिंक बनेगी उससे होने वाले पीरियड्स के दर्द में तुरंत असर दिखाएगी।

इसलिए अगर आप सभी चीजों को इकट्ठा कर पाते हैं तो इन सब को आपस में मिलाकर ही इस ड्रिंक को बनाएं इसके अलावा एक और बहुत ही असरदार नुस्खा है। जो कि पीरियड्स में होने वाले दर्द को हमेशा हमेशा के लिए जड़ से खत्म कर सकता है।

period pain relief tips in hindi  मासिक धर्म में दर्द का इलाज
period pain relief tips in hindi मासिक धर्म में दर्द का इलाज

period pain relief home remedies पीरियड के दर्द से राहत घरेलू उपचार

अशोक के पेड़ के पत्ते पीरियड्स में होने वाले period pain relief tips in hindi के लिए चमत्कारी रूप से फायदेमंद होते हैं। साथ ही महिलाओं में अनियमित मासिक धर्म ज्यादा या कम ब्लीडिंग होना मैनोपोस्ट प्रॉब्लम लिकोरिया और पाईल्स जैसी प्रॉब्लम के लिए भी यह बहुत ही अधिक लाभकारी होता है।

शरीर में किसी भी तरह के इंफेक्शन और दर्द को दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल काफी समय से किया जाता आ रहा है । इस नुस्खे में हमे अशोक के पत्तों से ड्रिंक्स तैयार करनी है इसके लिए हमें वही वाले अशोक के पेड़ के पत्ते चाहिए होंगे जिसमें लाल कलर का फूल आता है।

अशोक के पेड़ दो प्रकार के होते हैं एक जो पतला और लंबा होता है और दूसरा जो आम के पेड़ की तरह फैला होता है। इसमें जो पतला वाला पेड़ है हमें उसका इस्तेमाल नहीं करना है जो अशोक का पेड़ घना और फैला हुआ होता है हमें वही अशोक के पेड़ के पत्तों की जरूरत होगी।

यह एक बहुत ही कॉमन पेड़ है जो कि किसी भी बगीचे नर्सरी या फिर पार्क में आपको आसानी से मिल जाएगा तथा इस ड्रिंक को बनाने के लिए मिक्सर में 5 से 6 अशोक के पत्ते को अच्छी तरह से चला कर उनकी चटनी बना लें उसके बाद इस चटनी को लगभग 1 से डेढ़ गिलास पानी में डालकर अच्छी तरह ब्वाइल कर ले।

इसे हमें तब तक ब्वॉइल करना है जब तक कि पानी आधा रह जाय इसके बाद जब भी यह पूरी तरह से ठंडा हो जाए।तब इसे बिना छाने ही इसका सेवन करना है। इसे पीरियड्स के दौरान और पीरियड्स शुरू होने से पहले रोजाना दिन में एक से दो बार पीना चाहिए।

how to stop period pain forever पीरियड के दर्द को हमेशा के लिए कैसे रोकें

अगर आप चाहते हैं की पीरियड्स में होने वाले दर्द हमेशा के लिए चला जाए तो 30 से 40 दिन तक इस ड्रिंक का लगातार सेवन करें। ऐसा करने से मासिक धर्म में होने वाला दर्द हमेशा के लिए ठीक हो जाता है और फिर दर्द को दूर करने के लिए किसी भी तरह के दवाई या फिर नुस्खों की जरूरत भी नहीं पड़ती है।

अशोक के पेड़ के पत्तों के साथ-साथ इसकी छाल और फूल भी बहुत लाभकारी होती है।अगर आप को अक्सर पिम्पल निकलते रहते हैं या फिर चेहरे पर दाग धब्बे और चेहरा सांवला है तो इस ड्रिंक के15 दिन के इस्तेमाल से ही इन सभी तरह के प्रॉब्लम में तेजी से सुधार आता है।

अगर आप का दर्द ज्यादा है या फिर इसका असर और अधिक बढ़ाना चाहते हैं तो इससे रात भर के लिए भी लगा कर रखा जा सकता है।इससे और अधिक आसान बनाने के लिए आप नाभि पर लगाए हुए कॉटन बॉल को टेप या फिर बैंडेज की सहायता से भी चिपका सकते हैं।

यह एक पूरी तरह देसी नुस्खा है जो कि पुराने समय से कई महिलाओं द्वारा इस्तेमाल किया जाताआ रहा है।पीरियड्स में होने वाले दर्द के अलावा इस नुस्खे का इस्तेमाल बुखार सर्दी और मांसपेशियों में थकान को दूर करने के लिए भी किया जाता है।

how to stop period pain immediately पीरियड के दर्द को तुरंत कैसे रोकें

इसके साथ ही जिन लोगों को अक्सर मासिक धर्म के दौरान दर्द होता ही है उन्हें रोजाना खाली पेट एलोवेरा और आंवला का जूस जरूर पीना चाहिए और पीने के साथ ही period pain relief tips in hindi या कौन सा फल खाये तो इसमें यदि पीरियड्स के कुछ दिन पहले और पीरियड्स के दौरान रोजाना पपीते का सेवन करें तो period pain में बहुत फायदेमंद साबित होगा।

ऐसा करने से पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द सीधे आधा हो जाता है और अगर आप रोजाना सुबह खाली पेट एलोवेरा जूस का सेवन करते हैं तो समय के साथ साथ आप देखेंगे की पीरियड्स में होने वाला दर्द बिल्कुल ही ठीक हो जाएगा। इसलिए स्वस्थ जीवन जीने के लिए इसका उपयोग जरूर करें।

अगर आप नॉनवेज खाते हैं या फिर आपके रोजाना चाय या कॉफी पीने की आदत है यह दोनों चीजें ही पीरियड्स में होने वाले दर्द और अनियमितता को बढ़ावा देती है। इसलिए पीरियड्स आने के 2 दिन पहले और पीरियड्स के दौरान नॉनवेज और चाय काफी का सेवन करना बंद कर दें। ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जी खाए।

चाय काफी की जगह ग्रीन टी या फिर कैमोमाइल टी इस्तेमाल करें कैमोमाइल टी भी पीरियड्स में होने वाले दर्द में बहुत फायदेमंद होती है।

इसके अलावा अपनी बॉडी को पूरी तरह हाइड्रेट रखने के लिए दिन भर में ज्यादा से ज्यादा पानी पिये। और अपने आप को फ्रेश फ्री रखने के लिए की कोशिश करें इसी के साथ उम्मीद करता हूं आज का यह नुस्खा आपके जीवन में बहुत ही कारगर सिद्ध होगा।’

समापन

तो दोस्तों उम्मीद करता हु “period pain relief tips in hindi ” पीरियड्स ” या मासिक धर्म के समय होने वाले दर्द का घरेलू इलाज ”आपको ये पोस्ट अच्छा लगा होगा।

दोस्तों अगर आपको ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे।

इसके अतिरिक्त आप अपना Comment दे सकते है और हमें E-Mail भी कर सकते हैं |

यदि आपके पास Hindi में कोई ,Health Tips in Hindi में जानकारी है और यदि आप वह हमारे साथ Share करना चाहते है तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ हमें E-Mail करे | हमारी E-Mail Id है – admin@gyankibate.com यदि आपकी पोस्ट हमें पसंद आती है तो हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ अपने Blog पर Publish करेंगे |

इसे भी पढ़े

Spread the love

Leave a Comment